Thursday, July 23, 2009

कृष्ण-कन्हैया या सोनू बाबा




मेरे भाई सोनू को जब स्कूल की फेंसी ड्रेस के लिए कृष्ण-कन्हैया बनाया गया तो पहले तो वह बहुत खुश हुआ लेकिन बाद में वह स्कूल गया ही नहीं और घर में ही खेलता रहा। अगर वह स्कूल जाता तो जैसे मैं अपने स्कूल में मिस इंडिया बनी, वह भी जरूर सबका कृष्ण-कन्हैया बन जाता। पर अपना बंदर बंदरपना दिखाने से कहां बाज आने वाला था।

1 comment:

रंजन said...

खबरदार सोनु बाबा को कोई बंदर बोला तो..

बहुत प्यारा कान्हा है ये..

प्यार.

हिन्दी में लिखें